व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना (यूनाईटेड इंडिया इंश्योरेन्स) का विश्लेषण (Personal Accidental policies review of United India)

पिछले लेख व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा, क्या आपके साथ दुर्घटना नहीं हो सकती [Personal Accident Insurance Policy]

के बाद विचार आया कि कुछ व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजनाओं का विश्लेषण भी दिया जाये तो पाठकों को व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना के बारे में ज्यादा जानकारी मिलेगी और वे अच्छी योजना का चयन भी कर पायेंगे।

यूनाईटेड इंडिया इंशयोरन्स कंपनी की व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना ( PA Policy)

किसी व्यक्ति को शारीरिक हानि के लिये आकस्मित घातक परिस्थितियों के लिये (दुर्घटना और चोट के कारण) सुरक्षा प्रदान करते हैं।

१२ वर्ष से ७० वर्ष तक की उम्र तक सुरक्षा प्रदान करते हैं, ७० वर्ष की उम्र में स्वास्थ्य परीक्षण होता है, वैसे ८० वर्ष तक भी सुरक्षा प्रदान करते हैं।

बीमा अवधि के दौरान घातक दुर्घटना होने पर इस प्रकार निर्देश हैं –

मृत्यु बीमित राशि का १००%
स्थायी संपूर्ण विकलांगता बीमित राशि का १००%
दो अंगों की हानि / दोनों आँखें या कोई एक अंग और एक आँख बीमित राशि का १००%
किसी एक अंग / एक आँख की हानि बीमित राशि का ५०%
स्थायी आंशिक विकलांगता निर्भर करता है % बीमित राशि और योजना के अनुसार
अस्थायी संपूर्ण विकलांगता १% हर सप्ताह बीमित राशि का, अधिकतम ३००० रुपयों तक, अधिकतम १०० सप्ताह के लिये

अतिरिक्त बीमा शुल्क देकर, बीमित दावा राशि का २५% तक का चिकित्सा व्यय, या १०% बीमित राशि तक योजना में सम्मिलित की जा सकती है।

बीमित व्यक्ति के लिये योजना में अधिकतम दो आश्रित बच्चों के लिये शिक्षा राशि का भी प्रबंध है। दुर्घटना के बाद शव को दुर्घटना के स्थान से लाने के लिये किया गया खर्च भी सम्मिलित होता है (योजना के नियम और शर्तों के अनुसार)

योजना के नवीनीकरण पर ५% बीमित राशि का आकर्षक संचयी लाभ दिया जाता है, बीमित राशि हर वर्ष ५% अधिक हो जाती है हर वर्ष अगर बीमा दावा न किया गया हो, (अधिकतम बीमित राशि के ५०% तक), बिना अतिरिक्त बीमा शुल्क दिये।

योजना में क्या सुरक्षा सम्मिलित नहीं है –

क्षतिपूर्ति राशि विकलांगता के लिये एक ही अवधि में एक ख्ंड से ज्यादा का फ़ायदा नहीं दिया जाता है, जो कि अधिकतम बीमित राशि हो सकती है।

कोई ओर भुगतान, बीमित राशि का ५०%/१००% बीमा दावा करने के बाद ।

कोई ओर दावा, समान अवधि में जो कि बीमित राशि से जयादा होता हो।

आत्महत्या, अपराध में मृत्यु, शराब/ड्रग्स से प्रभावित दुर्घटना मृत्यु / चोट।

गर्भावस्था से संबंधित कोई भी दावा।

युद्ध और परमाणु खतरों से।

बीमा शुल्क राशि

दस लाख रुपये के दुर्घटना बीमा के लिये लगभग १००० रुपये सालाना है।

One thought on “व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा योजना (यूनाईटेड इंडिया इंश्योरेन्स) का विश्लेषण (Personal Accidental policies review of United India)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *